October 3, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

ड्रग माफियाओं के बचाव में उतरे ड्रग इंस्पेक्टर राहुल यादव: थोक और फुटकर लाइसेंस के लिए अलग अलग दुकान की जरूरत नहीं: कोई भी व्यक्ति ले सकता है एक साथ होलसेल और फुटकर का लाइसेंस:

प्रतापगढ़। पिछले 8 वर्षों से प्रतापगढ़ में जमे हुए ड्रग इंस्पेक्टर राहुल यादव की ड्रग माफियाओं के साथ इतना गहरा याराना है कि अब वह ड्रग माफियाओं के बचाव में मीडिया के सामने खुलकर आने लगे हैं।

अवध भूमि न्यूज़ के साथ बातचीत करते हुए राहुल यादव ने कहा कि होलसेल और फुटकर मेडिकल स्टोर के लिए अलग-अलग दुकान या व्यक्ति की जरूरत नहीं है। एक ही दुकान में थोक और फुटकर दोनों के लाइसेंस दिए जा सकते हैं । जब इस संबंध में अवध भूमि न्यूज़ द्वारा उनसे दिशा निर्देश संबंधी अभिलेख मांगा गया तो वह कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाए। उन्होंने कहा कि आदेश की प्रति बाद में दिखा देंगे।

हर महीने होती है लाखों रुपए की वसूली

जानकारों का मानना है कि शहर के सभी केमिस्ट हर महीने ड्रग इंस्पेक्टर को मोटी रकम देते हैं बदले में ड्रग इंस्पेक्टर की ओर से उन्हें काफी छूट मिलती है। जब भी कोई शिकायत राहुल यादव से की जाती है तो वह ड्रग माफियाओं के बचाव में उतर आते हैं। शहर के एक बड़े ड्रग व्यवसाई जिनकी एक ही दुकान पर तीन लाइसेंस निर्गत किए गए हैं उनके प्रति ड्रग इंस्पेक्टर की हमदर्दी देखी गई।

धड़ल्ले से बिक रही है प्रतिबंधित दवाएं

जिले भर में ड्रग इंस्पेक्टर के उदासीनता और मिलीभगत के चलते हो बड़े पैमाने पर प्रतिबंधित दवाएं थोक और फुटकर के भाव बेची जा रही हैं। ऑक्सीटॉसिन पूरे देश में प्रतिबंधित है फिर भी प्रतापगढ़ में यह दवाएं कहीं भी आसानी से मिल जाती हैं।