October 5, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

चुनाव यात्रा: विश्वनाथगंज विधानसभा : अपना दल से मजबूत है भारतीय जनता पार्टी फिर भी गठबंधन की मजबूरी क्यों

प्रतापगढ़। विश्वनाथगंज विधानसभा में गठबंधन की पेंच फिर से फस गई है। भाजपा इस सीट को गठबंधन के लिए छोड़ना चाहती है जबकि कार्यकर्ता इसके लिए तैयार नहीं है।

बीजेपी के कार्यकर्ताओं का कहना है कि इस सीट पर अपना दल के चुनाव निशान पर उतने वोट नहीं मिलते जितना बीजेपी के चुनाव निशान कमल पर मिलते हैं। कार्यकर्ताओं ने 2017 के विधानसभा चुनाव का जिक्र करते हुए कहा कि अपना दल को 1 लाख 14 हजार के आसपास मत मिला था जबकि 2019 में लोकसभा चुनाव में इसी विधानसभा में कमल के फूल पर डेढ़ लाख से अधिक वोट मिले।

कार्यकर्ताओं का मानना है कि यदि इस बार यह सीट अपने दल के कोटे में जाएगी तो किसी कीमत पर जीत नहीं हासिल होगी।

भाजपा हाईकमान को भी इस बात का अंदेशा है अभी तक विश्वनाथ गंज विधानसभा का टिकट घोषित नहीं किया गया है उम्मीद है कि अगले 1 या 2 दिन में स्थिति साफ हो जाएगी।

भाजपा के टिकट पर सबसे बड़े दावेदार डॉ राकेश सिंह ने कहा कि यदि भाजपा को यह सीट मिलेगी तभी वह दावेदारी करेंगे या फिर भाजपा हाईकमान जो निर्देश देगा उसका पालन करेंगे।