September 30, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

गुजरात के लिए निकला 60 लाख टन कोयला रास्ते में गायब: उद्योगों को सब्सिडी पर मिलने वाले कोयले को अधिकारियों ने 4 गुना महंगे भाव पर रास्ते में ही बेच दिया: सरकार को लगाया 6 हजार करोड़ रुपए का चूना

दिल्ली: गुजरात में 6,000 करोड़ रुपये के कोयला घोटाले का दावा किया गया है। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात सरकार की एजेंसियों ने राज्य की स्मॉल और मीडियम लेवल की इंडस्ट्रीज (MSME) के नाम पर कोयला मंगाया लेकिन इसे महंगी कीमत पर दूसरे राज्यों को बेच दिया। कांग्रेस ने इसे चारा घोटाले का बाप (Chara Ghotale ka Baap) बताते हुए मांग की है कि इस लूट में कौन-कौन शामिल है, इसकी जाँच होनी बहुत जरूरी है।

कांग्रेस महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक ट्वीट में कहा, ‘गुजरात सरकार में 6,000 करोड़ रुपये का “कोयला घोटाला”! खदान से 60 लाख टन कोयला आया-हुआ गायब। भाजपा सरकार ने 4 निजी कंपनियों को कोयला लाने को अधिकृत किया, तीन का पता ही नकली। शायद जबाब होगा- ‘न कोई कोयला लाया, न कोयला आया’, मामला बंद, पैसा हज्म!’ उन्होंने साथ ही इस रिपोर्ट को भी ट्वीट किया है। कांग्रेस के एक अन्य नेता संजयनिरूपम ने ट्वीट किया, ‘गुजरात का कोयला घोटाला चारा घोटाला का बाप है। खदान से निकला 60 लाख टन कोयला। बीच रस्ते में गायब हो गया। 6000 करोड़ रुपये की लूट। लूट में कौन-कौन शामिल है, इसकी जाँच होनी जरूरी है।’

You may have missed