08 Aug 2022, 9:52 AM (GMT)

Global Stats

589,758,534 Total Cases
6,437,593 Deaths
561,427,715 Recovered

August 9, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

प्रधानमंत्री कार्यालय के हस्तक्षेप के बाद भी नहीं दर्ज हुई प्राथमिकी: वाराणसी में प्रतियोगी छात्र की हत्या का मामला : हत्या के 8 दिन बाद भी नहीं दर्ज हुई एफआईआर


प्रतापगढ़। बीते मंगलवार 12 जुलाई को मेडिकल प्रतियोगी छात्र नितेश मिश्र की षड्यंत्रकारी हत्यारों ने वाराणसी के एक लाज में हत्या कर दी थी। नामजद अभियुक्तों के खिलाफ तहरीर देने के आठ दिन बीतने के बावजूद भी हत्यारों को पकड़ने में नाकाम रही पुलिस और न ही हत्यारों के खिलाफ दर्ज किया मुकदमा ।
मालूम हो कि जनपद के विकास खंड बाबा बेलखरनाथ धाम क्षेत्र अंतर्गत शेखपुर अठगवा गांव निवासी पत्रकार धर्मेंद्र मिश्र के इकलौते बेटे नितेश मिश्र 20 वर्ष की वाराणसी के भेलूपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत सुन्दरपुर / शुकुलपुरा निवासी राम जतन पुत्र नेऊरराम के मकान को किराए पर ले कर मेडिकल की तैयारी कर रहा था। जो उक्त 12 जुलाई को शाम के वक्त लगभग 7 बजे के करीब मकान मालिक के बेटे व मकान में रह रहे कुछ छात्रों द्वारा कूट रचित ढंग से हत्या कर छत से फेंकने की घटना को अंजाम दे दिया । परिजनों ने घटना की उक्त बातें बतायी है।साथ ही वाराणसी पुलिस पर भी आरोप लगाया है कि नामजद अभियुक्तों के खिलाफ तहरीर देने के वावजूद भी घटना के आठ दिन बीत गए फिर भी हत्यारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं किया गया । मृतक छात्र के पिता का कहना है कि न तो नितेश की पोस्टमार्टम रिपोर्ट, और न ही हॉस्पिटल से डेथ सर्टिफिकेट‌ मिला सिर्फ पुलिस पंचनामा पे हस्ताक्षर करवाकर शव ‌को पोस्टमार्टम के बाद दाह संस्कार करने हेतु पीड़ित परिवार को शव को सौंपा गया ।भेलूपुर वाराणसी इंस्पेक्टर को जब हत्या की तहरीर देने की बात परिजनों ने की तो थानेदारसाहेब नहीं लिए तहरीर। और न ही‌ किए गए मुकदमा दर्ज।पीड़ित परिवार ने शासन प्रशासन जिले के एसपी से मांग की है कि तत्काल प्रभाव से नामजद अभियुक्तों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दोषियों को सजा दिलाई जाये।।