21 Jan 2022, 1:21 AM (GMT)

Global Stats

343,621,896 Total Cases
5,595,338 Deaths
275,162,831 Recovered

January 21, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

हजारों समर्थकों के साथ पहुंचे विजय किशोर: गदगद हुए गडकरी

गडकरी की सभा मे सबसे अधिक कार्यकर्ताओं संग पहुंचे विजय किशोर

गौरीगंज विधानसभा सीट पर दावेदारों की धुकधुकी बढी
गौरीगंज, अमेठी। एक जमाने मे बीजेपी का किला रही गौरीगंज विधानसभा सीट बीते दो दशको से अनसुलझी पहेली बन गयी है। आखिरी बार 1997 मे बीजेपी टिकट पर तेजभान सिंह को सफलता मिली थी और उसके बाद यहां पार्टी का तीसरे नंबर पर स्थायी ठिकाना बन गया। जो बीते चुनाव मे एक पायदान और नीचे गिरकर चौथे स्थान पर आ गया। यहां यह गौर करने की बात है कि लोकसभा चुनाव 2014 और 2019 दोनो मे यहां बीजेपी जीतती रही। अब जिले मे बीजेपी की सारी योजना रणनीति स्थानीय सांसद व केंंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की निगरानी पर ही चलते हैं, यह सर्वमान्य राय है। कांग्रेस के इस किले को भगवा गढ मे तब्दील करने वाली अमेठी सांसद के लिये भी गौरीगंज विधानसभा सीट किसी चुनौती से कम नही है। अभी यहां पर बीते दो चुनावों से सपा के राकेश प्रताप सिंह विधायक हैं। इन्हे चुनौती कौन देगा यह बडा सवाल सभी के मन मे है। संघ से जुडे एक भाजपा नेता ने बताया कि शनिवार को गडकरी की रैली मे गौरीगंज से सबसे अधिक कार्यकर्ता पार्टी नेता विजय किशोर तिवारी की अगुवाई मे सभा स्थल पर पहुंचे थे। बीते चुनाव मे बसपा टिकट पर गौरीगंज से चुनाव लडकर अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत करने वाले प्रतिष्ठित व्यवसायी विजय किशोर तिवारी को मतदाताओं का बडा समर्थन मिला था। इस बार माना जा रहा है कि गौरीगंज के किले को गिराने की जिम्मेदारी संभवतः विजय किशोर तिवारी को ही दी जायेगी। वैसे सबकुछ तय होने मे अभी समय है लेकिन क्षेत्र मे सियासी तापमान आसमान छूने लगा है।

You may have missed