21 Jan 2022, 1:46 AM (GMT)

Global Stats

343,731,667 Total Cases
5,595,447 Deaths
275,190,944 Recovered

January 21, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

कमीशन नहीं मिला तो रोक लिया हजारों करोड़ रुपए का स्टार्टअप फंड: यूपी में ठप हो गया समूह बनाने का काम: 7 लाख समूह और 65 लाख महिलाएं प्रभावित : नाराज महिलाएं बिगाड़ सकती हैं भाजपा का खेल:

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में महा भ्रष्ट आईएएस अफसरों में शामिल राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के प्रबंध निदेशक भानु चंद्र गोस्वामी ने केंद्र सरकार की गाइडलाइन का उल्लंघन करते हुए हजारों करोड़ रुपए के फंड का डायवर्जन किया है। पिछले 1 साल से प्रदेश के कई जनपदों में स्टार्टअप फंड जारी नहीं किया गया है जबकि जनपदों की ओर से बार-बार इसकी मांग की जाती रही है। भानु चंद्र गोस्वामी के गिरोह में संयुक्त प्रबंध निदेशक भी शामिल हो गए हैं।

कमीशन नहीं तो फंड नहीं

उत्तर प्रदेश के किसी भी जिले में इस समय ड्राइव नहीं चल रही है। कई जिला मिशन प्रबंधकों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि मुख्यालय से बार-बार आईसीआरपी के तहत धनराशि की मांग की गई लेकिन कोई न कोई बहाना बनाकर फंड जारी नहीं किया जा रहा है जिसकी वजह से ड्राइव नहीं हो पा रही है और समूह नहीं बन पा रहे हैं। जो समूह बनाए गए हैं वहां भी स्टार्टअप फंड के अभाव में गतिविधियां ठप पड़ गई है। महिलाएं काफी निराश और गुस्से में है।

भानु चंद्र गोस्वामी की चोरी और सीनाजोरी:

स्वयं सहायता समूह की महिलाओं की समस्या को जब प्रबंध निदेशक भानु चंद्र गोस्वामी के सामने अवध भूमि न्यूज़ ने उठाया तो उन्होंने महिलाओं को झूठा बताया। भानु चंद्र गोस्वामी ने कहा कि सभी जनपदों में भरपूर स्टार्टअप फंड भेज दिया गया है जबकि वास्तविकता ठीक इसके विपरीत है किस-किस जिले में फूटी कौड़ी भी इस मद में नहीं प्राप्त हुई है।

वेंडरों का करोड़ों रुपया बकाया

स्टेशनरी फर्नीचर और ड्राइव के लिए गाड़ी उपलब्ध कराने वाले वेंडरों का भुगतान नहीं मिलने की वजह से आपूर्ति ठप पड़ गई है। जिसकी वजह से ड्राइव रोक दी गई है ड्राइव रोके जाने की वजह से गांव में समूह की गतिविधियां पूरी तरह ठप पड़ गई है। विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार की वजह से महिलाएं काफी नाराज हैं।

जेएमडी मथुरा प्रसाद मिश्र ने कहा सारे निर्णय प्रबंध निदेशक ले रहे हैं। जबकि प्रबंध निदेशक भानु चंद्र गोस्वामी ने अवध भूमि न्यूज़ से बात करते हुए कहा कि सभी जिलों को फंड भेजा गया है पर्याप्त भेजा गया है आरोप लगाने वाली समूह और महिलाएं झूठी है।

समूह की महिलाओं मैं सरकार को लेकर व्यापक नाराजगी

समूह को स्टार्ट अप फंड नहीं मिलने की वजह से इससे जुड़ी लाखों महिलाएं सरकार से बेहद नाराज हैं। महिलाओं का कहना है कि सरकार की इस योजना में केवल भ्रष्टाचार है। फंड नहीं जारी किया जा रहा है और झूठा प्रचार किया जा रहा है। इस समूह से जुड़ कर किसी का कोई भला नहीं हो रहा है।

मंत्री के जिले को भी नहीं दिया फूटी कौड़ी

कमीशन के चक्कर में भानु चंद्र गोस्वामी और जेएमडी मथुरा प्रसाद मिश्रा ने विभाग के कैबिनेट मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह के जनपद में भी फूटी कौड़ी नहीं दिया और यहां भी हजारों समूह से जुड़ी महिलाएं दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं।

यहां जिला मिशन प्रबंधक कार्यालय द्वारा मुख्यालय को किए गए पत्राचार का अवलोकन करने के बाद या पता चला कि मुख्यालय द्वारा कभी डीसी स्तर पर तो कभी सीडीओ स्तर पर रिपोर्ट मांगी गई लेकिन फिर भी कोई न कोई बहाना बनाकर फंड नहीं रिलीज किया गया।

You may have missed