October 4, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

चोरी के शक में लखीमपुर पुलिस ने दलित युवक को पीट पीट कर मार डाला:

लखीमपुर खीरी। स्थानी पुलिस ने एक दलित युवक को मोबाइल चोरी के आरोप में पकड़ा और उससे जुर्म कबूल करवाने के लिए थर्ड डिग्री का इस्तेमाल किया जिसके बाद उसकी मौत हो गई।

नाबालिग दलित राहुल को पुलिस ने चोरी के मोबाइल के मामले में पूछताछ के लिए चौकी बुलाया था जहां उसके साथ बेरहमी से मारपीट हुई। थर्ड डिग्री का इस्तेमाल करने की वजह से उसकी हालत बिगड़ गई बाद में पुलिस ने आनन-फानन में मरणासन्न अवस्था में राहुल को उसके घर छोड़ दिया।

घर में राहुल की हालत काफी बिगड़ गई. राहुल की मां रीता देवी और बहन ने बताया कि पुलिस ने राहुल की बुरी तरह से पीटा था. उसकी कमर से नीचे गहरे चोट के निशान बने हुए थे. परिजनों ने युवक को पलिया के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया. हालत गंभीर होने के कारण राहुल की शनिवार रात मौत हो गई.

इससे नाराज ग्रामीणों ने शव रखकर हाईवे पर जाम लगा दिया. पुलिस के समझाने पर भी ग्रामीण नहीं माने. जिला पंचायत तरसेम सिंह भी धरने पर बैठ गए. सीओ संजय नाथ तिवारी और तहसीलदार आशीष कुमार भी पहुंच गए. परिजनों ने मांग की कि खजुरिया चौकी इंचार्ज विपिन कुमार सिंह, सिपाही सचिन कुमार, सिपाही महेंद्र कुमार के खिलाफ 120 बी के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया

दलित की पुलिस की पिटाई से मौत का आरोप लगा है. इससे गुस्साई भीड़ ने पुलिस वालों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा. मामला इंडो नेपाल बॉर्डर के खीरी जिले के सम्पूर्णानगर कोतवाली इलाके के खजुरिया चौकी का है. परिजन खजुरिया चौकी इंचार्ज और स्टाफ पर बेटे की हत्या का आरोप लगा रहे हैं. इसके विरोध में ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया.