October 3, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

झटका: अग्निपथ योजना में अपने जवान नहीं भेजेगा नेपाल: गोरखा रेजीमेंट की भर्ती स्थगित

नई दिल्ली। नेपाल सरकार ने 4 वर्ष की अग्निपथ योजना के लिए अपने जवानों को भारतीय सेना में भेजने से इनकार कर दिया है। सरकार ने अग्निपथ योजना के तहत नेपाल से भर्ती के लिए अनुमति मांगी थी जो अब तक नहीं दी गई।

गोरखपुर स्थित गोरखा रेजीमेंट में नेपाली जवानों के रिक्रूटमेंट के लिए नेपाल सरकार की आवश्यक मंजूरी नहीं मिली जिसकी वजह से भर्ती टालना पड़ा है।

नेपाल सरकार की चिंता

नेपाल की डूबा सरकार इस बात को लेकर चिंतित है कि यदि उसने अल्प अवधि वाली इस भर्ती को मंजूरी दी तो विपक्षी से चुनाव में मुद्दा बना सकते हैं और उन्हें मुश्किल का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा नेपाल में एक चिंता आम है कि कि मात्र 25 वर्ष की अवस्था में अवकाश प्राप्त कर लेने वाले ट्रेंड जवान यदि समाज में अराजक समूह से जुड़ गए तो यह नेपाल में कानून व्यवस्था का भी मसला बन सकता है। कुल मिलाकर अग्निपथ योजना को लेकर नेपाल में सकारात्मक माहौल नहीं है जिसकी वजह से सरकार ने अपने कदम वापस खींच लिए।

भारत की चिंता

यदि नेपाल सरकार ने गोरखा रेजीमेंट के लिए जवानों के रिक्रूटमेंट की मंजूरी नहीं दी तो भारत के लिए सबसे बड़ी चिंता यही है कि तिब्बत भूटान और नेपाल बॉर्डर पर विषम भौगोलिक परिस्थितियों में डटकर खड़ा रहने वाला गोरखा के अलावा कोई और विकल्प नहीं है।

फिलहाल अभी तक नेपाल सरकार ने भारत सरकार को कोई सकारात्मक जवाब नहीं दिया है।