October 3, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

राजनीति: बृजेश पाठक और केशव मौर्य दिल्ली तलब किए गए : लखनऊ में फिर चढ़ा सियासी पारा

नई दिल्ली। प्रदेश सरकार के दोनों उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक और दिल्ली तलब किए गए हैं। बृजेश पाठक ने जहां करवेतीनगर से मुलाकात की थी वहीं आज केशव प्रसाद मौर्य की जेपी नड्डा से मुलाकात हो रही है।

जानकार सूत्रों का मानना है कि मिशन 2024 को लेकर दोनों उप मुख्यमंत्रियों से मकबरा किया जा रहा है लेकिन बिना योगी आदित्यनाथ के उनके ही उप मुख्यमंत्रियों के साथ भाजपा हाईकमान की बैठक सियासी गलियारे में सनसनी फैला रही है। योगी खेमा भी यह जानने के लिए बेचैन है कि आखिर उनकी अनुपस्थिति में क्या गुल खिलाया जा रहा है।

बृजेश पाठक और केशव मौर्य अपने अपर मुख्य सचिव से नाराज

बृजेश पाठक अब भी नाराज बताए जा रहे हैं कहा जा रहा है कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में बड़े पैमाने पर ट्रांसफर घोटाले में शामिल होने के बावजूद अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद को नहीं हटाया गया है और ना ही गलत तरीके से किए गए ट्रांसफर को निरस्त किया गया है।

मनोज सिंह के खिलाफ सीबीआई जांच चाहते हैं केशव मौर्य

जानकार सूत्रों का मानना है कि विभाग मे टीएचआरप्लांट की खरीद में भारी धांधली हुई है और बिना किसी टेंडर के केरल की एक कंपनी को लगभग 500 करोड़ रुपए का ठेका दे दिया गया। यह सब कुछ अपर मुख्य सचिव मनोज सिंह ने किया। इसको लेकर उपमुख्यमंत्री और ग्रामीण विकास विभाग के कैबिनेट मंत्री केशव प्रसाद मौर्य नाराज बताए जा रहे हैं। कहा तो यहां तक जा रहा है कि उन्होंने इसकी शिकायत दिल्ली तक पहुंचा दी है।

मनोज सिंह के खिलाफ लंबित है सीबीआई जांच की मंजूरी

केंद्रीय जांच ब्यूरो ने अपर मुख्य सचिव मनोज सिंह के खिलाफ गंभीर शिकायतों के बाद सीबीआई जांच के लिए राज्य सरकार की मंजूरी मांगी थी जो अभी तक लंबे करें। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य चाहते हैं अपर मुख्य सचिव को हटा कर उनके खिलाफ लंबित सीबीआई जांच को मंजूरी दी जाए ताकि विभाग में अब तक जो कुछ हुआ है का कच्चा चिट्ठा सामने आ सके।