November 26, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

सांसद के बयान पर बढ़ी महिला जनप्रतिनिधियों की नाराजगी:

प्रतापगढ़। दिशा की बैठक में स्थानीय सांसद संगम लाल गुप्ता ने निर्वाचित महिला जनप्रतिनिधि के पति का नाम शिला पट्टिका में अंकित करने का विरोध करने के बाद महिला जनप्रतिनिधि नाराज बताई जा रही है।

महिलाओं का कहना है कि विवाह के उपरांत उनके पति के साथ ही नीचे आइडेंटिटी टैग होती है। हमारे सनातन धर्म के संस्कार हैं और युगों युगों से चला आ रहा है आखिर सांसद हमारे पतियों का विरोध क्यों कर रहे हैं।

बता दें कि जनपद में सैकड़ों की संख्या में महिला प्रधान डीडीसी बीडीसी सदस्य निर्वाचित हुई हैं जो अपने नाम के साथ अपने पति का नाम जोड़कर परिचय देती हैं।

राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल भी अपने नाम के साथ पति का नाम जोड़ कर लिखती थी

मध्य प्रदेश महाराष्ट्र आंध्र प्रदेश तमिलनाडु बिहार बंगाल उत्तर प्रदेश कई राज्यों में सैकड़ों निर्वाचित महिला जनप्रतिनिधि अपने नाम के साथ पति के नाम जोड़ कर लिखती रही हैं। पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा अपने पति देवी सिंह पाटिल का नाम अपने साथ जोड़ कर लिखती थीं।

जानकार मानते हैं कि सांसद भाजपा के कुछ ऐसे नेताओं से नाराज हैं जिनकी पत्नियां निर्वाचित जनप्रतिनिधि हैं और जिनके पति प्रभावशाली और लोकप्रिय है।