01 Dec 2021, 6:47 AM (GMT)

Global Stats

263,435,245 Total Cases
5,238,270 Deaths
237,826,821 Recovered

December 2, 2021

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

हजारों यात्री हुए रेलवे की ठगी का शिकार, पैसेंजर ट्रेन को बनाया स्पेशल ट्रेन, यात्रियों को लगाया 800 करोड़ रुपए का चूना

लखनऊ। त्योहारी सीजन में यदि आप भी यात्रा करने के बारे में सोच रहे हैं तो जरा सावधान हो जाइए! रेलवे आप को ठगने के लिए सदैव तत्पर है! किसी भी पैसेंजर ट्रेन को विशेष ट्रेन बनाकर आप को लूटने की पूरी योजना बना ली गई है। रेलवे केवल गाड़ी संख्या से पहले जीरो लगा देगा बस इतना करते ही भाड़े में सौ से डेढ़ सौ फ़ीसदी का इज़ाफ़ा हो जाएगा। ट्रेन वही रहेगी स्पीड वही रहेगी बर्थ वही रहेगी स्टॉपेज भी वही रहेंगे और गंतव्य तक पहुंचने में समय भी वही रहेगा जो पैसेंजर ट्रेन का है लेकिन भाड़ा पैसेंजर ट्रेन के मुकाबले डेढ़ से 3 गुना अधिक हो सकता है।

रेलवे ने अपने इस आइडिये से सिर्फ यूपी से 800 करोड़ रुपये कमा लिए हैं। अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार अगर हम चारबाग रेलवे स्टेशन की बात करें तो यहां से आम तौर पर 165 रेलगाड़ियां गुजरती या चलती थीं, लेकिन कोरोना के बाद 40 के करीब मेमो और पैसेंजर ट्रेनें बंद हैं। इस हिसाब से 125 ट्रेनें यहां से गुजरती हैं। कुल स्पेशल ट्रेनों की इनकम को लेकर रेलवे के पास अभी डाटा उपलब्ध नहीं है।

सिर्फ लखनऊ की बात करें तो इन 125 ट्रेनों से 600 लोगों ने औसतन रोज सफर किया है। इन यात्रियों से रेलवे ने अलग-अलग श्रेणियों के हिसाब से स्पेशल के नाम पर 125 रुपये अधिक वसूले हैं। इस तरह से एक महीने में रेलवे ने इनसे 28 करोड़ रुपये कमाए। इसी को अगर हम पिछले 10 महीनों के हिसाब से देखें तो सिर्फ चारबाग से 280 करोड़ की अतिरिक्त कमाई रेलवे ने की है। ये सिर्फ एक स्टेशन का आंकड़ा है, जो और भी ज्यादा हो सकता है।