23 Jan 2022, 9:52 AM (GMT)

Global Stats

351,403,122 Total Cases
5,613,079 Deaths
279,251,560 Recovered

January 24, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

आखिर प्रधानमंत्री ने सरकारी बैंक की सुरक्षा की गारंटी क्यों नहीं ली? क्या वाकई सरकारी बैंक खतरे में है

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री ने अपने बयान में यह नहीं कहा कि बैंक नहीं डूबेंगे। उन्होंने कहा कि अगर बैंक डूब जाता है तो ₹500000 तक सरकार वापसी की गारंटी लेगी।

उनका क्या होगा जिनका बैंकों में लाखों रुपए जमा है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान के बाद ऐसे लाखों लोग अपने भविष्य को लेकर चिंतित हो गए हैं जिनके जीवन भर की पूंजी जो ₹500000 से कहीं ज्यादा है और बैंकों में जमा है। लोगों को लग रहा है कि बैंक डूब जाएंगे और साथ ही उनकी जमा पूंजी भी। बहुत से लोगों की फंड आदि जो लाखों में है वह बैंकों में जमा है और सरकार द्वारा बैंक नहीं डूबने की गारंटी नहीं लेने पर होश उड़ गए हैं। लोगों को लग रहा है कि जल्द ही बहुत से बैंक डूबेंगे और पांच लाख से ऊपर के जो भी ग्राहक है वह अपनी पूंजी गवा देंगे

प्रधानमंत्री के बयान के बाद 11 लाख से अधिक कर्मचारी अपने भविष्य को लेकर चिंतित

प्रधानमंत्री के बयान के बाद सरकारी बैंकों के लगभग 1100000 कर्मचारी अपने भविष्य को लेकर चिंतित है। सरकार पर दबाव बनाने के लिए आज और कल हड़ताल पर रहेंगे।