October 5, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

आसमान पर पहुंची महंगाई और बेरोजगारी के बीच श्रीलंका ने खुद को दिवालिया घोषित किया: कहा नहीं चुका सकते विदेशी कर्ज

कोलंबो। आर्थिक रूप से बदहाल हो चुके श्रीलंका ने आखिरकार अपने को दिवालिया घोषित कर दिया। श्रीलंका के प्रधानमंत्री महेंद्र राजपक्षे ने जारी बयान में कहा है कि श्रीलंका विदेशी कर्ज चुकाने में असमर्थ है। इसके साथ ही उन्होंने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष से आर्थिक पैकेज की भी मांग की।

संकट में घिरे श्रीलंका (Sri Lanka) ने ऐलान किया है कि वह अपने 51 अरब डॉलर के पूरे विदेशी कर्ज (External Debt) को चुकाने में नाकाम रहेगा यानी डिफॉल्ट करेगा। श्रीलंका इस एक्सटर्नल डेट पर अंतरराष्ट्रीय मॉनेटरी फंड (IMF) से बेलआउट पैकेज मिलने की उम्मीद कर रहा है लेकिन अभी तक इसे लेकर आईएमएफ की ओर से मंजूरी नहीं मिली है। श्रीलंका के वित्त मंत्रालय ने कहा है कि क्रेडिटर्स मंगलवार दोपहर से अपने बकाया किसी भी ब्याज भुगतान को भुनाने या श्रीलंकाई रुपये में भुगतान का विकल्प चुनने के लिए स्वतंत्र हैं।