October 3, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

छत्तीसगढ़ में भ्रष्टाचार चरम पर: भू माफिया ने तहसीलदार से मिलकर करोड़ों रुपए की सरकारी सड़क पर कर लिया कब्जा: बंद कर दिया दलित आदिवासियों का रास्ता: प्रकरण मुख्यमंत्री के संज्ञान में फिर भी नहीं हो रही कार्रवाई

भाटापारा। छत्तीसगढ़ में भ्रष्टाचार चरम पर पहुंच गया है और भूमाफिया पूरी तरह सक्रिय हैं। इसका ताजा उदाहरण भाटापारा डिस्ट्रिक्ट के बलौदाबाजार तहसील अंतर्गत कोकडी ग्राम सभा में देखने को मिला जहां भू माफिया ने तहसीलदार से मिलीभगत करके 60 साल पुरानी पक्की सड़क पर कब्जा कर लिया इसकी शिकायत तहसीलदार से लेकर कलेक्टर तक को दी गई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। दबंग भूमाफिया ने जेसीबी से इस सड़क की खुदाई करा दी जिससे दलित आदिवासियों मुख्य सड़क तक आने जाने का रास्ता पूरी तरह अवरुद्ध हो गया। गांव में गोंड आदिवासी सतनामी और मनवा कुर्मी बिरादरी के लोगों की बहुतायत है।

भू माफिया भाजपा नेता प्रकाश तिवारी के समक्ष नतमस्तक प्रशासन

कहा जा रहा है कि भूमाफिया प्रकाश तिवारी जो भारतीय जनता पार्टी का नेता बताया जाता है उसने स्थानीय तहसीलदार तथा हल्का पटवारी समेत कई राजस्व कर्मियों को मोटी रिश्वत देकर अपने पक्ष में कर रखा है अन्यथा कोई कारण नहीं है कि तहसील प्रशासन अपने ही स्थगन आदेश का अनुपालन नहीं करवा पाया और भूमाफिया ने लोक निर्माण विभाग कि लगभग डेढ़ किलोमीटर सड़क पर कब्जा करके अपनी निजी संपत्ति बता रहा है और गांव वालों का आना जाना बंद करवा दिया है।

ग्राम सभा ने अतिक्रमण के खिलाफ दर्ज कराया मुकदमा फिर भी नहीं हुई सुनवाई

ग्रामसभा कोकड़ी की ओर से बलौदा बाजार की मुख्य सड़क से गांव के महेश कुर्मी के घर तक बनी इस सड़क पर कब्जे को लेकर स्थानीय तहसीलदार की अदालत में 2016 में ही एक मुकदमा दायर किया गया था जिसमें तत्कालीन तहसीलदार ने सड़क पर किसी प्रकार का अतिक्रमण ना हो आदेश पारित कर दिया था किंतु आदेश को धता बताते हुए भूमाफिया प्रकाश तिवारी ने पूरी सड़क अपने कब्जे में ले ली जेसीबी लगाकर खुदाई करवा दी जिसके चलते गांव के लोग मुख्य सड़क तक नहीं पहुंच पा रहे हैं।