21 Jan 2022, 2:34 AM (GMT)

Global Stats

343,867,511 Total Cases
5,595,580 Deaths
275,205,872 Recovered

January 21, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

राजनैतिक दलों के चुनावी रैली चिंता का विषय: चुनाव आयोग निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव हमारी जिम्मेदारी: चुनाव आयोग 3 साल से एक ही जिले में जमे अधिकारियों का हर हाल में तबादला किया जाएगा – चुनाव आयोग

चुनाव आयोग की PC प्रारम्भ–

आयोग निष्पक्ष और कोविड के खतरे से सावधान होकर चुनाव कराने को लेकर प्रतिबद्ध है,
हमने बीते दिनों में सभी प्रमुख दलों के साथ बैठक की और उनकी बातों को सुना,
सभी DM, SP, DIG और पुलिस कमिश्नर से बात की और जिले के लॉ एंड ऑर्डर के बारे में जानकारी ली,


कोविड सेफ्टी के विषय मे भी जानकारी ली गई,
आयकर, GST, एक्साईज, बैंक और तमाम स्टेक होल्डर से बात की,
क्योंकि हमारा लक्ष्य है कि प्रलोभन और मादक पदार्थों से रहित ये चुनाव हों,
राजनीति दलों के प्रतिनिधियों ने कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए समय पर चुनाव मांग की,
कुछ दलों ने रैली में आ रही भीड़ को लेकर चिंता जाहिर की और रैलियों में आ रही भीड़ को नियंत्रित करने की मांग की,
कुछ दलों ने बायस्ड अधिकारियों के बारे मे शिकायत की,
अधिकतर दलों ने प्रचार प्रसार के दौरान, धनबल, प्रलोभन और मतदाताओं को भय में लाने की भी शिकायत की—-सुशील चंद्रा, CEC

15.02 करोड़ से अधिक UP में मतदाता है,
मतदाता सूची बनने के बाद भी हम ऑप्शन देंगे कि जिनके नाम छूट गए हैं वो अपने नाम शामिल कर सकें,

2017 में 1000 पुरुष मतदाताओं पर 839 महिला मतदाता थीं,

इस बार 1000 पुरुष मतदाताओं पर 868 मतदाता हैं,

मतदाता सूची से जुड़ी शिकायत को अटेंड करने के लिए सभी DM और DO को आदेश दिए गए हैं,

10 लाख 64 हज़ार से दिव्यांग मतदाता हैं,

उनकी सुविधा के लिए मतदान में इंतज़ाम किए जाएंगे,

80 वर्ष से अधिक उम्र के दिव्यांग और कोविड पेशेंट मतदाताओं को उनके घर पर जाकर पोस्टल बैलेट का ऑप्शन देंगे,

इस काम का वीडियो रिकॉर्डिंग भी कराएंगे, पारदर्शिता के लिए,

पहले 1500 लोगों पर एक बूथ होता था इस बार कोविड को देखते हुए 1250 लोगों पर बूथ बनाए जाएंगे, जिससे 11 हज़ार बूथ इस बार ज्यादा बनाए जाएंगे—-EC

800 पोलिंग स्टेशन ऐसे होंगे जहां सभी सुरक्षा कर्मी और मतदान कर्मी सिर्फ महिला होंगी,

मतदाता पहचान पत्र के अलावा 11 और दस्तावेज ऐसे होंगे जिन्हें पहचान पत्र की तरह इस्तेमाल करके वोट डाले जा सकेंगे,

सभी बुतों पर EVM और VVPAT पर लगाए जाएंगे,

1 लाख 73 हज़ार मतदान स्थलों में से कम से एक लाख मतदान स्थल की वेब कास्टिंग की जाएगी,

2017 में मतदान प्रतिशत 61 फीसदी था,
2019 में मतदान 59 फीसदी था,
कम मतदान प्रतिशत से हम चिंतित हैं,
कम मतदान वाले जिलों और तहसीलों को हमने चिन्हित किया है,
और वहां लोगों को जागरूक करने के लिए DM को आदेशित किया गया है—-EC

अभी कोविड का नया खतरा पैदा हो गया है,
80 फीसदी से ज्यादा लोगों को पहली और दूसरी डोज 49 फीसदी लोगों को लग चुकी है,

हमने आदेश दिया है कि वैक्सिनेशन की रफ्तार बढ़ाई जाए जिससे 100 फीसदी लोगों को कम से कम पहली डोज लग ही जाए,
मुझे बताया गया है कि UP में ओमिक्रोन कोई बड़ा खतरा नहीं है,अभी तक सिर्फ 4 केस सामने आए हैं,
जो लोग पोलिंग ड्यूटी पर लगाए जाएंगे वो सभी वैक्सिनेटेड होंगे, जो लोग को जरूरत होगी उन्हें बूस्टर डोज भी दिए जाएंगे,

पोलिंग टाइम को 1 घण्टा बढ़ाया जाएगा पूरे प्रदेश में,
राज्य, जिला स्तर पर हेल्थ नोडल ऑफिसर तैनात किए जाएंगे,

कानून व्यवस्था के प्रबंध के लिए DGP, SP, DIG से विस्तृत चर्चा हुई है और उन्हें बायस्ड ना होने और किसी का फेवर ना करने के आदेश दिए गए हैं,
3 साल से एक ही जगह पर जमे अधिकारियों का तबादला किया जाएगा,
1 जनवरी तक ये काम हो जाएगा ,
14 IPS और 39 PPS का ट्रांसफर किया जा चुका है, सभी सीमा चौकियों पर CCTV से निगरानी रखी जाएगी—-EC

You may have missed