23 Jan 2022, 9:10 AM (GMT)

Global Stats

351,012,618 Total Cases
5,612,791 Deaths
279,244,653 Recovered

January 24, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

अवैध हथियारों की तस्करी का सबसे बड़ा केंद्र बन कर उभरा गोरखपुर: पश्चिम बंगाल में भेजे गए करोड़ों रुपए के हथियार

गोरखपुर। बीते 4 सालों में गोरखपुर में बने अवैध हथियार की तस्करी और उससे होने वाली अकूत कमाई का पता चला है।

आईजी गोरखपुर जोन अमित कुमार के मुताबिक पकड़े गए लोग बीते तीन-चार सालों से बड़ी मात्रा में अवैध हथियारों की तस्करी कर रहे थे। रिवाल्वर पिस्टल राइफल और सभी तरह के छोटे बड़े हथियार तस्करी होकर बिहार और बंगाल तक पहुंच रहे थे।

गोरखपुर रेंज के आंकड़ों पर नजर दौड़ाई जाए तो गोरखपुर, महराजगंज, देवरिया व कुशीनगर में पिछले तीन वर्षों के दौरान 2592 लोग असलहे के साथ पकड़े गए। 2019 में 743, 2020 में 969 और 2021 में 880 आरोपी पकड़े गए हैं।

गोरखपुर से अब पश्चिम बंगाल तक असलहों की सप्लाई हो रही है। पहले बिहार तक ही असलहे भेजे जाते थे। इसका खुलासा पिछले तीन वर्षों के दौरान अवैध असलहों के साथ पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ के बाद हुआ है। खबर है कि गोरखपुर जोन में आठ हजार लोगों को अवैध असलहे के साथ दबोचा जा चुका है। इनके पास से 10 हजार असलहे बरामद किए जा चुके हैं। अभी चंद दिनों पहले यहां की पुलिस ने भी पश्चिम बंगाल के दो असलहा तस्करों को पकड़ा था।

गोरखपुर से अब पश्चिम बंगाल तक असलहों की सप्लाई हो रही है। पहले बिहार तक ही असलहे भेजे जाते थे। इसका खुलासा पिछले तीन वर्षों के दौरान अवैध असलहों के साथ पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ के बाद हुआ है। खबर है कि गोरखपुर जोन में आठ हजार लोगों को अवैध असलहे के साथ दबोचा जा चुका है। इनके पास से 10 हजार असलहे बरामद किए जा चुके हैं। अभी चंद दिनों पहले यहां की पुलिस ने भी पश्चिम बंगाल के दो असलहा तस्करों को पकड़ा था।