22 May 2022, 8:38 AM (GMT)

Global Stats

527,370,242 Total Cases
6,300,057 Deaths
497,319,381 Recovered

May 22, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

अंतरराष्ट्रीय घोटालेबाज को बचाने के आरोपों पर घिरी कर्नाटक और केंद्र सरकार

नई दिल्ली। दुनिया भर में चर्चित बिटकॉइन घोटाले के बड़े आरोपी रवि कृष्ण जिसके पीछे 14 देशों की पुलिस पड़ी है उसे कर्नाटक सरकार ने संरक्षण दिया और केंद्र सरकार ने इसकी जानकारी इंटरपोल से छुपाए रखें। आखिर ऐसा क्यों हुआ। इसको लेकर कांग्रेस सरकार पर हमलावर है। कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इस मामले में कर्नाटक और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा है।

उन्होंने कहा कि 14 नवंबर 2020 को कर्नाटक पुलिस ने एक कथित हैकर श्रीकृष्ण को उसके सहयोगी रॉबिन खंडेलवाल के साथ गिरफ्तार किया। जिसके बाद उसे पुलिस कस्टडी में पांच अलग-अलग क्राइम केसों में गिरफ्तार किया गया। उसके बाद 17 अप्रैल 2021 को बेल दे दी गई है। सुरजेवाला ने कहा कि कृष्ण ने मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट, बेंगलुरु के सामने दिसंबर 2020 में एक स्वैच्छिक बयान दिया।

उन्होंने कहा इस सबमें अहम ये है कि कई अंतरराष्ट्रीय अपराधों के बावजूद, इंटरपोल को पांच महीने से अधिक समय तक सूचित नहीं किया गया। 24 अप्रैल 2021 को यानी प्रारंभिक गिरफ्तारी के पांच महीने से अधिक समय बाद, पुलिस आयुक्त, बेंगलुरु ने इंटरपोल संपर्क अधिकारी (सीबीआई) को पत्र लिखकर इंटरपोल और अन्य एजेंसियों को सूचित करने के लिए कहा। उन्होंने इस मामले में जांच की मांग करते हुए कहा कि इंटरनेशनल एजेंसियों को इस जांच में जोड़ा जाए और सुप्रीम कोर्ट के सिटिंग जज के नेतृत्व में एसआइटी बनाई जाए।

You may have missed