29 Jun 2022, 9:43 AM (GMT)

Global Stats

551,332,813 Total Cases
6,354,844 Deaths
526,699,756 Recovered

June 30, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

निजी करण के चलते दिवालिया हो गया श्रीलंका: आलू ₹200 किलो तो ₹7000 किलो में मिल रही है मिर्ची

कोलंबो। अंधाधुंध एफडीआई पाने के चक्कर में श्रीलंका दिवालिया हो चुका है। श्रीलंका की मुद्रा रुपया ऐतिहासिक स्तर तक गिर गया है। हालात इतने खराब हो चुके हैं कि लोग रोजमर्रा के खाने पीने की चीजें खरीदने में असमर्थ हो रहे हैं।

भारत का पड़ोसी देश श्रीलंका दिवालिया होने के कगार पर है. खाने-पीने के सामानों की कीमत आसमान छू रही हैं. महंगाई ने लोगों की कमर तोड़ दी है. श्रीलंका के Advocata Institute ने महंगाई को लेकर आंकड़े जारी किए हैं जिसमें बताया गया है कि खाद्यान्न वस्तुओं की कीमत में एक महीने में ही 15 प्रतिशत का इजाफा हुआ है. इस इजाफे की सबसे बड़ी वजह सब्जियों की कीमत में बेतहाशा बढ़ोतरी बताई गई है.

टमाटर- 200 रुपए / किलो बैंगन- 160 रुपए / किलो भिंडी- 200 रुपए / किलो करेला- 160 रुपए / किलो बींस- 320 रुपए / किलो बंदगोभी- 240 रुपए / किलो गाजर- 200 रुपए / किलो कच्चा केला- 120 रुपए / किलो