October 2, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

ब्राह्मणों ने अखिलेश को दिया परशुराम का फरसा: अखिलेश बोले अत्याचार और अन्याय का नामोनिशान मिटा दूंगा

लखनऊ। गोसाईगंज के महोदरा में भगवान परशुराम की 108 फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण करने के बाद विप्र महासभा द्वारा उन्हें परशुराम का अस्त्र फरसा दिया गया जिसे स्वीकार करने के बाद उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश से अन्याय अत्याचार और जुल्म का नामोनिशान मिटा ना है तो भगवान परशुराम के रास्ते पर ही चलना पड़ेगा।

भगवान परशुराम सच्चे समाजवादी

अखिलेश यादव ने एक रणनीति के तहत राम के सामने परशुराम को लाकर खड़ा कर दिया। यह कह कर कि परशुराम ने अत्याचार और अन्याय के खिलाफ संघर्ष किया यही सच्चा समाजवाद है उन्होंने विप्र समुदाय को साधने की पूरी कोशिश की। उनकी कोशिश कितनी सफल रही यह तो समय बताएगा लेकिन फिलहाल उन्होंने आज परशुराम जी की प्रतिमा का अनावरण कर ब्राह्मणों में हलचल जरूर मचा दी है।

अखिलेश को सुनने उमड़ा जन सैलाब

आज गोसाईगंज में हजारों की भीड़ उमड़ी और जिस मौके पर यह भीड़ उमड़ी उसने विरोधियों के होश उड़ा दिए। भाजपा को उम्मीद नहीं थी कि ब्राह्मण समुदाय अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के बाद समाजवादी पार्टी के साथ जाएगा लेकिन आज परशुराम की मूर्ति अनावरण के अवसर पर उमड़ी भीड़ और उसके जोश से जहां अखिलेश यादव गदगद नजर आए वहीं भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेता चिंतित दिखे।