08 Aug 2022, 9:57 AM (GMT)

Global Stats

589,748,800 Total Cases
6,437,575 Deaths
561,427,082 Recovered

August 9, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

मुख्यमंत्री के आदेश की उड़ी धज्जियां: लोक निर्माण विभाग के प्रमुख अभियंता ने बढ़ाई 10 जुलाई तक स्थानांतरण की डेट; कहा मुख्यमंत्री से मिली है विशेष अनुमति

लखनऊ। अधिशासी अभियंता अधीक्षण अभियंता सहायक अभियंता और अवर अभियंताओं के स्थानांतरण में मनचाही पोस्टिंग के लिए प्रमुख अभियंता कार्यालय में इस समय सौदेबाजी का दौर जारी है इसी बीच प्रमुख अभियंता ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सख्त स्थानांतरण नीति का मजाक बनाते हुए 27/6 /2022 को विभाग में विभागीय कार्य हित में 15 जुलाई तक स्थानांतरण अवधि बढ़ाने की मांग की उनके इसी पत्र के जवाब में विशेष सचिव प्रभुनाथ ने 4 जुलाई 2022 को प्रमुख अभियंता को एक पत्र भेजा और जानकारी दी कि उनके अनुरोध पर विचार करते हुए स्थानांतरण अवधि 10 जुलाई तक बढ़ा दी गई है लेकिन विशेष सचिव प्रभुनाथ के इस आदेश में यह उल्लेख नहीं किया गया है कि यह अनुमति प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग की ओर से दी गई है या फिर इसके लिए मुख्यमंत्री कार्यालय से अनुमति प्राप्त की गई है। कुल मिलाकर स्थानांतरण अवधि बढ़ाने का यह खेल प्रमुख अभियंता और विशेष सचिव ने मिलकर किया है ऐसा प्रतीत होता है।

इतने बड़े आदेश से मंत्री जतिन प्रसाद भी अनभिज्ञ

विशेष सचिव प्रभुनाथ और प्रमुख अभियंता ने इतना बड़ा खेल कर दिया जिसकी भनक विभाग के कैबिनेट मंत्री जतिन प्रसाद को भी नहीं लगी। और अब जबकि लोक निर्माण विभाग में 10 जुलाई तक स्थानांतरण अवधि बढ़ा दी गई है तो सूचनार्थ प्रमुख अभियंता के आदेश की कॉपी मंत्रियों को भेजने के बजाय उनके निजी सचिव को भेजी जा रही है यह संदेह है कि पता नहीं यह कॉपी विभागों को सर्व होगी या नहीं इसकी कोई गारंटी नहीं है।

स्थानांतरण में करोड़ों का खेल करने की तैयारी

वास्तव में यह विभाग के हित में नहीं बल्कि करोड़ों का खेल करने के लिए बेल स्क्रिप्टेड प्लान के तहत सोची समझी रणनीति के अनुसार किया गया है। इस खेल में विशेष सचिव और प्रमुख अभियंता शामिल है। जानकारी के मुताबिक मनचाही पोस्टिंग के लिए अधिशासी अभियंता और सहायक अभियंता तथा अवर अभियंता से मोटी रकम उगाही जा रही है। ऐसे में 30 जून की तिथि बीत जाने के बाद खेल खराब होने का डर था जिस को नियमित करने के लिए बिना मुख्यमंत्री कार्यालय की अनुमति के मनमाने ढंग से स्थानांतरण की अवधि बढ़ा दी गई।