October 5, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

गरीबों और मजदूरों कि साइकिल पर प्रधानमंत्री का तंज , बोले साइकिल आतंकियों की पसंद

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में चुनाव चल रहे हैं और प्रधानमंत्री समेत उनकी पार्टी के कई नेता अपनी भाषा को निम्नतम स्तर पर ले जा रहे हैं। प्रधानमंत्री ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए समाजवादी पार्टी के चुनाव निशान साइकिल को आतंकवादियों से जोड़ दिया। उन्होंने कहा कि अहमदाबाद में हुए बम विस्फोट में आतंकियों ने साइकिल में ही बम लगाए थे। ऐसा कहते हुए प्रधानमंत्री यह भूल गए कि देश में करोड़ों लोग छात्र नौजवान बेरोजगार आज भी साइकिल के सहारे अपना जीवन यापन करते हैं। प्रधानमंत्री के बयान के बाद वह अपने आप को शर्मिंदा महसूस कर सकते हैं। प्रधानमंत्री ने गरीबों की रोजी रोटी का सहारा बनी साइकिल को जिस तरह अपने लाभ के लिए चुनावी हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया उससे देश का गरीब और कमजोर तबका आहत हो सकता है।

एसआईटी रिपोर्ट के अनुसार अहमदाबाद में विस्फोटक साइकिल में नहीं बल्कि कार और ऑटो में रखे गए थे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज भी तथ्यों से परे बोले। अहमदाबाद में हुए बम विस्फोट में एसआईटी ने जो रिपोर्ट कोर्ट में सौपी है उसमें विस्फोटक कार और ऑटो में रखने की बात कही गई है लेकिन प्रधानमंत्री ने एक बार फिर तथ्यों से परे बयान देकर आलोचकों को उन पर उंगली उठाने का मौका दे दिया।

विपक्ष प्रधानमंत्री के इस बयान पर उन्हें निशाना बना सकता है। अगर विपक्ष में गरीब और मजदूरों की साइकिल पर प्रधानमंत्री के बयान को मुद्दा बना लिया तो या भाजपा के लिए बड़ी मुश्किल भी हो सकता है।