November 26, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

ड्राई राशन बांटने वाली महिलाओं का लाखों रुपए का मानदेय लूट रहे हैं डीसी एनआरएलएम: नाराज महिलाओं ने कहा कि वह लखनऊ में करेंगी प्रदर्शन

प्रतापगढ़। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तमाम उद्देश्यों को विफल करते हुए स्थानीय उपायुक्त स्वता रोजगार एवं राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन नागेंद्र नारायण मिश्रा के कारनामे चर्चा में है। मिली जानकारी के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्रों में ड्राई राशन अभिकर्ता के रूप में काम करने वाले स्वयं सहायता समूह का जो मानदेय भेजा गया उस में प्रत्येक ब्लॉक में जमकर लूट की गई। सूत्रों ने दावा किया है कि डी सी एन आर एल एम ने कई बीएमएम पर दबाव बनाकर ड्राई राशन बांटने वाले स्वयं सहायता समूह को मिलने वाले मानदेय में से 20 से 40% तक कमीशन नगद वसूला गया और यह धनराशि कथित तौर पर नागेंद्र नारायण मिश्रा को दिया गया। कहा तो यहां तक गया है कि डी सी एन आर एल एम ने बीएमएम से यह कह कर पैसा वसूल करवाया उच्च अधिकारियों को संतुष्ट रखना है नहीं तो जांच शुरू हो जाएगी और लोगों को परेशानी होगी। जानकारी मिली है कि लगभग ₹20000000 जनपद में ड्राई राशन बांटने वाले स्वयं सहायता समूह के खाते में भेजा गया जिसमें से लगभग 60 लाख रुपया वसूल कर डीसी एनआरएलएम को भेजा गया। बहुत से बीएमएम ने नाम ना छापने की शर्त पर आरोपों की पुष्टि की। कई महिला स्वयं सहायता समूह के पदाधिकारी नाराज थे उनका कहना था कि शासन की ओर से उनके उत्थान के लिए जो भी धनराशि भेजी जाती है वह उपायुक्त एनआरएलएम कि भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाता है। सरकार खाते में पैसा भेजती है और उपायुक्त एनआरएलएम तरह तरह के दबाव बनाकर उसे वसूल लेते हैं।

महिलाओं का कहना है कि राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन का उद्देश्य पूरी तरह जनपद में विफल हो रहा है लूट मची हुई है अगर इस पर कार्यवाही नहीं होती है तो वह लखनऊ में प्रदर्शन करेंगी।