November 26, 2022

अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

लखनऊ: अमित मोहन प्रसाद के खाली पड़े प्लॉट बने में डेंगू महामारी केंद्र: घर-घर डेंगू की दस्तक दो की मौत कई गंभीर रूप से बीमार

लखनऊ। इस समय उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ डेंगू महामारी का केंद्र बन गई है। मेडिकल कॉलेज पीजीआई और सभी सरकारी अस्पताल डेंगू पॉजिटिव मरीजों से भरे पड़े हैं। इस बीच सीतापुर रोड स्थित भिठौली खुर्द गांव सीतापुर रोड लखनऊ से सटे मधुपुरम कालोनी में गंदगी और जलभराव के चलते लोगों की जान पर बनाई है। इस गांव के ज्यादातर लोग खुले में शौच को जाते हैं। भिठौली खुर्द गांव के लोग सुबह 4: 30बजे से ही खुले में शौच करते हैं जबकि कागजों पर 100%लोगों ने शौचालय निर्माण हेतु सरकारी अनुदान प्राप्त कर लिया है।

इसी क्षेत्र में वरिष्ठ आईएएस अधिकारी अमित मोहन प्रसाद के कई प्लाट खाली पड़े हैं जिनमें व्यापक जलभराव होने की वजह से डेंगू के लारवा प्रचुर मात्रा में बन गए और पूरा इलाका डेंगू मच्छरों के दंश की वजह से जिंदगी और मौत से जूझ रहा है।

इतना ही नहीं बहुत से उद्योगपतियों और आईएएस अधिकारियों के बेनामी प्लाट यहां पर मौजूद है जिसकी कभी साफ सफाई नहीं होती ऐसे प्लाट डेंगू मच्छरों का ठिकाना बने हुए हैं

बिना अनुमति बनाए गए कमर्शियल बिला

गांव में यह भी देखने में आया है कि बहुत से लोगों ने विनियमित क्षेत्र से बिना नक्शा पास कराए बहुत से कमर्शियल विला बना लिए और जल निकासी के रास्ते अवरुद्ध कर लिए लेकिन रसूखदार होने की वजह से या यूं कहें कि अधिकारियों की मिलीभगत से उनके खिलाफ कोई कारवाई नहीं हुई।

स्वच्छ भारत मिशन के तहत सभी लोगों को शौचालय कागज पर दे दिया गया है और जल निकासी तथा साफ-सफाई की व्यवस्था भी कागज पर चल रही है इस संबंध में पूछने पर प्रधान विशंभर ने चुप्पी साध ली

You may have missed