अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

रिटायरमेंट से पहले लोक निर्माण विभाग प्रयागराज के मंडलीय मुख्य अभियंता ने खोली ट्रांसफर पोस्टिंग की दुकान: नाराज कर्मचारी संगठनों ने दी हड़ताल पर जाने की धमकी

प्रयागराज । लोक निर्माण विभाग में पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी ट्रांसफर पोस्टिंग में जबरदस्त धांधली हो रही है। जानकारी मिली है कि कई डिवीजन और मंडलीय मुख्य अभियंता कार्यालय में ऐसे लोग जिनकी मुख्य अभियंता अशोक पाहुजा से सांठगांठ है और मलाईदार पोस्ट पर तैनात हैं उन्हें ट्रांसफर पॉलिसी से मुक्त रखा गया है। मुख्य अभियंता कार्यालय पर चर्चित वरिष्ठ सहायक विनय सिंह पर जो कि खुद मुख्य अभियंता कार्यालय में 10 वर्षों से अधिक समय से तैनात हैं ट्रांसफर रोकने और मनचाहा ट्रांसफर करने के लिए जमकर धन उगाही कर रहे हैं। इस समय मंडलीय मुख्य अभियंता आवास और कार्यालय कथित रूप से जारी ट्रांसफर पोस्टिंग का अड्डा बन गया है।

पारदर्शिता का ढोंग रचने के लिए बनाई समिति

मंडलीय मुख्य अभियंता जिनका इसी महीने में अवकाश हो रहा है अपनी विदाई को भव्य बनाने के लिए शासन के ट्रांसफर पॉलिसी की धज्जियां उड़ा रहे हैं। मानव संपदा पोर्टल से ट्रांसफर करने के बजाए पारदर्शिता का नाटक करने के लिए तीन सदस्यीय समिति बनाई गई है। इस समिति में इलाहाबाद के अधीक्षण अभियंता और सभी डिवीजन से अधिशासी अभियंता के साथ-साथ मुख्य अभियंता भी शामिल है। इस समिति को लेकर ही अब बड़े सवाल खड़े हो रहे हैं लोगों का कहना है कि यदि मानव संपदा पोर्टल से ट्रांसफर पोस्टिंग हो रही है तो फिर समिति बनाने की जरूरत ही क्या है। मानव संपदा पोर्टल बनाया ही इसीलिए गया था कि सभी तरह की ट्रांसफर पोस्टिंग में पूरी पारदर्शिता हो। यहां भी बड़ा सवाल खड़ा हो गया है कि मुख्य अभियंता ने यह समिति किस दिशा निर्देश के तहत बनाई है।

मानव संपदा पोर्टल से नहीं हो रहे ट्रांसफर पोस्टिंग

मंडलीय चीफ अभियंता कार्यालय में जारी ट्रांसफर पोस्टिंग की धांधली से नाराज कर्मचारी संगठनों ने हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी है।

कुल मिलाकर लोक निर्माण विभाग सी ट्रांसफर पोस्टिंग नीति एक बार फिर सवालों के घेरे में है। तमाम कोशिशों के बावजूद ट्रांसफर पोस्टिंग निष्पक्ष और पारदर्शी नहीं हो पा रही है।

About Author

You may have missed