अवधभूमि

हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार

भाजपा के संरक्षण में अदानी देश लूट रहा है: अडानी के घोटाले पर पर्दा क्यों डाल रही सरकार: प्रमोद तिवारी


लालगंज, प्रतापगढ़। राज्यसभा में विपक्ष के उपनेता प्रमोद तिवारी ने कहा है कि भाजपा की सरपरस्ती में अडानी के द्वारा देश के खजाने की लूट की जांच जेपीसी गठित न होने तक कांग्रेस विरोध का स्वर मुखर रखेगी। उपनेता बन कर यहां पहुंचे प्रमोद तिवारी ने जनसभा को संबोधित करने के बाद मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि हिण्डनवर्ग की रिर्पोट में जिस तरह भारतीय स्टेट बैंक व भारतीय जीवन बीमा निगम में देश की जनता की गाढ़ी कमाई की लूट में अडानी को सरकार के संरक्षण में लाभ के तथ्य सामने आये हैं। उसे देखते हुए कांग्रेस सांसद ने कहा कि संसद मे मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस समेत समूचा विपक्ष इस बडे भ्रष्टाचार की जांच जेपीसी यानि संयुक्त संसदीय जांच समिति से कम स्वीकार करने को तैयार नही है। राहुल गांधी के मुददे पर प्रमोद तिवारी ने कहा कि भाजपा को पहले अपने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा आस्टेªलिया, अमेरिका, जर्मनी आदि देशों में विदेश दौरे को लेकर तत्कालीन सरकारों के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणियों को लेकर जबाबदेह हो। उन्होनें कहा कि राहुल गांधी ने सेमिनार के दौरान भारत जोड़ो यात्रा का विदेश में अनुभव साझा किया था। विपक्ष के उपनेता प्रमोद तिवारी ने संसद में सप्ताह भर से जारी गतिरोध को लेकर भी भाजपा पर ठीकरा फोडते हुए कहा कि आजाद भारत के इतिहास मे कभी भी सत्तारूढ दल द्वारा अपने मंत्रियो और सांसदो के जरिए लोकसभा और राज्यसभा मे बेल मे आकर हंगामा नही किया गया। उन्होनें कहा कि अडानी के भ्रष्टाचार को लेकर अपनी कलई न खुलने से भयभीत मोदी सरकार जानबूझकर राहुल गांधी को मुददा बनाकर संसद को बाधित किये हुए है। यूपी में विद्युतकर्मियों की हडताल पर भी प्रमोद तिवारी ने राज्य सरकार को कटघरे मे खड़ा करते हुए श्री तिवारी ने कहा कि कर्मचारियों मे यह भय है कि सरकार बिजली कंपनियो का निजीकरण करने जा रही है। उन्होने विद्युत कर्मचारियों से भी कहा कि वह अपनी मांगो के साथ जनता के प्रति भी जबाबदेह बने रहे। श्री तिवारी ने कहा कि भाजपा ने वर्षो से पढ़ा रहे शिक्षको तथा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसानो को भी कदम कदम पर धोखा दिया है। वार्ता के दौरान कांग्रेस विधानमण्डल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना ने प्रदेश में भाजपा सरकार को कानून व्यवस्था पर पूरी तरह विफल बताया। उन्होने कहा कि कानून व्यवस्था के नाम पर भाजपा सरकार मे फिर आयी इसके बावजूद प्रयागराज मे घनी बस्ती में दिनदहाडे विधायक स्व. राजू पाल की हत्याकांड के मुख्य गवाह उमेश पाल को दिनदहाडे सशस्त्र सुरक्षाकर्मियों के साथ गोलियों से भून दिया गया। उन्होने कहा कि सदन का सत्र चलने के बीच प्रयागराज में तिहरे हत्याकांड का मुख्य आरोपी आज तक पुलिस के ईनाम घोषित करने के बावजूद सरकार की गिरफ्त मे नही आ सका। सीएलपी नेता मोना ने कहा कि कांग्रेस ही इस समय सदन से लेकर वह चाहे संसद हो या फिर यूपी विधानसभा मोदी सरकार की तानाशाही व जनविरोधी नीतियों के खिलाफ संघर्ष कर रही है। इस मौके पर प्रतिनिधि भगवती प्रसाद तिवारी एवं मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल आदि मौजूद रहे।